Mon07232018

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home लेख
लेख - दिव्य इंडिया न्यूज़
राफेल मुद्दे पर पर कांग्रेस अब मोदी सरकार को बख्शने के मूड में नजर नहीं आ रही है. अविश्वास प्रस्ताव के दौरान बहस में पीएम मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन की ओर से दिये गयान बयान को कांग्रेस ने झूठ करार दिया है. अब इस मुद्दे पर दोनों के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस लाने पर विचार हो रहा है. यही वजह है कि कांग्रेस के नेता अब राफेल डील को लेकर आक्रामक हो गये हैं. पूर्व रक्षामंत्री एक एंटनी ने मोर्चा संभालते हुये आज रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि 2008 में राफेल से कोई समझौता नहीं हुआ था. 2012 में राफेल को एल-1 के तौर पर चुना…
मृत्युंजय दीक्षित  अभी लोकसभा चुनाव होने में काफी समय है लेकिन प्रदेश में प्रधानमंत्री मोदी की रैलियंों औेर उनकी जनसभाओं में उमड़ रही भारी भीड़ को देखकर राजनैतिक विश्लेषक जहां अपना अनुमान नहीं लगा पा रहे हैं। वहीं विरोधी दले मेें भी बैचेनी चरम सीमा पर बढ़ती दिखलायी पड़ रही है। यही कारण है कि अब महागठबंधन में शामिल सभी दलों के नेता अगला चुनाव हर हाल में जीतने के लिये किसी भी हद तक जाने को तैयार हो रहे हैं तथा हर प्रकार की विकृत बयानबाजियां करके माहौल को बिगाड़ने के साथ ही अपने पक्ष में वातावरण बनाने की हर संभव कोशिश भी कर रहे हैं। अभी हाल ही पीएम मोदी के सफल दौरांें के बाद जहां बीजेपी को…
-फ़िरदौस ख़ान  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मुस्लिम बुद्धिजीवियों से मुलाक़ात कर रहे हैं। अगर वे मुसलमानों के हालात जानने के लिए ऐसा कर रहे हैं, तो उन्हें वरिष्ठ पत्रकार फ़िरदौस ख़ान की ये विशेष रिपोर्ट ज़रूर पढ़नी चाहिए। देश को आज़ाद हुए सात दशक बीत चुके हैं। इस दौरान बहुत कुछ बदल गया, लेकिन अगर कहीं कुछ नहीं बदला है, तो वह है देश के मुसलमानों की हालत। यह बेहद अफ़सोस की बात है कि आज़ादी के सात दशक बाद भी मुसलमानों की हालत अच्छी नहीं है। उन्हें उन्नति के लिए समान अवसर नहीं मिल रहे हैं। नतीजतन, मुसलमान सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक रूप से बेहद पिछ्ड़े हुए हैं। संपत्ति के मामले में भी मुसलमानों की हालत बेहद ख़स्ता है।…
विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर पेश की गई इस रिपोर्ट के अनुसार भारत में 15-18 आयुवर्ग के 100 मिलियन बच्चे हैं और इतनी बड़ी संख्या के बावजूद इन बच्चों की उपेक्षा की जाती है, इनकी समस्याओं को अनदेखा किया जा रहा है। 15-18 से आयुवर्ग के बच्चों को ध्यान में रखते हुए क्राई- चाईल्ड राईट्स एण्ड यू ने अपनी रिपोर्ट ‘चाइल्डएसेन्ट्स आॅफ इण्डियाः वी आर चिल्ड्रन टू’ पेश की है। रिपोर्ट में 15-18 आयु वर्ग के बच्चों, उनसे जुड़ी समस्याओं और उन अधिकारों का उल्लेख किया गया, जिनसे आज भी ये बच्चे वंचित हैं। अपनी इस रिपोर्ट के माध्यम ये क्राई ने बच्चों और किशारों की समस्याआंे, संवेदनशीलताओं पर रोशनी डालने का प्रयास किया है, जिससे वे गुज़र रहे…
-रविश अहमद  जनपद सहारनपुर जहां साम्प्रदायिक सौहार्द के प्रतीक के रूप में बाबा लाल दास और हाजी शाह कमाल की दोस्ती की परम्परा को दिल से निभाता है वहीं इस शहर को विश्वस्तरीय पहचान दिलाने में अहम भूमिका निभाई है यहां की विशेष फलपट्टी क्षेत्र के आम और लकड़ी की कारीगरी ने। यह दोनो ही जनपद सहारनपुर के विश्वस्तरीय व्यापार रहे हैं। लेकिन पिछले कुछ समय से जनपद सहारनपुर के तीनों प्रतीकों को नज़र सी लगी महसूस होती है। जहां एक ओर असामाजिक तत्वों और गन्दी राजनीति ने बार बार यहां का अमन खराब करने की कोशिशें की हैं वहीं बड़ी संख्या में सरकारी उपेक्षा के चलते फलपट्टी क्षेत्र से बाग़ों के कटान ने आम के निर्यात पर प्रतिकूल प्रभाव…
मृत्युंजय दीक्षित  उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ अभी तक जिसे केवल एक साजिश के तहत केवल नवाबों की नगरी कहकर ही पुकारा गया और उसके पहले के गौरवमयी हिंदू इतिहास को वामपंथी व सेकुलर इतिहासकारों के दबाव में दबा दिया गया अब ज बवह सच सामने आने लगा है तब सेकुलर वामपंथियेां तथा मुस्लिम तुष्टीकरण के बल पर जीने वाले दलों को अब लखनऊ में वीरवर लक्ष्मण जी की प्रतिमा से भी खतरा उत्पन्न होने लग गया है। अभी हाल ही में राजधनी लखनऊ की असली पहचान को कायम रखने के लिये भाजपा पार्षद दल की ओर से आये एक प्रस्ताव को नगर निगम कार्यकारिणी ने पास कर दिया है जिसके अनुसार वीरवर लक्ष्मण जी की नगरी में स्थित लक्ष्मण…
मृत्युंजय दीक्षित  उत्तर प्रदेश में मिशन- 2019 को फतह करने के लिये भारतीय जनता पार्टी ने संत कबीर दास के निर्वाण दिवस के अवसर पर संत कबीर के मगहर से अपने चुनावी अभियान का श्रीगणेश कर दिया है। प्रधाानमंत्री नरेंद्र मोदी की मगहर रैली पर प्रदेश ही नहीं लगभग पूरी दुनिया की नजरें उन पर लगी हुयी थीं तथा देशी व विदेशी मीडिया भी वहो से पलपल की खबरांे व गतिविधियों पर अपनी बारीक नजरें गड़ाये रहा था। मगहर मंे पीएम मोदी की रैली देखने के बाद पीएम मोदी व बीजेपी के प्रबल विरोधी भी यह मानकार चलने लग गये हैं कि फिलहाल पीएम मोदी का जादू अभी जनमानस में कम नहीं हुआ है। संत कबीर दास के दोहोे को…
-रविश अहमद  हम भारतीय वास्तव में मासूम हैं हमें कोई भी एक व्यक्ति बहला फुसला सकता है और यह एक बार नही हम हमेशा से साबित करते आये हैं। जिन्ना की तस्वीर याद तो होगी जी हां वही जिन्ना जिसने विभाजन के 71 वर्ष बाद भी भारतवासियों में क्रान्ति का बिगुल फूंक दिया था। अब कोई मोहतरमा पूजा हैं उन्होनें मुस्लिम जगत में हलचल मचाकर दूरसंचार कंपनी एयरटेल को ठप्प करने का बीड़ा उठाया है। धर्म के नाम पर ट्विटर टिप्पणी को उन्होने हथियार बनाया जिसे एक राष्ट्रवादी चैनल द्वारा बड़ी ख़बर के रूप में परोसा गया, जिसके बाद एक नयी क्रान्ति का जन्म हुआ फिलहाल मॉब लिंचिंग जैसे बड़े मुद्दे से लेकर और शिक्षा से राजनीति तक हर स्तर…
मृत्युंजय दीक्षित  देश व विरोधी दलों की बेहद मांग पर सेना की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत वींिडयो के रूप में जारी कर दिये गये हैं। राजनैतिक व सामरिक क्षेत्रों में माना जा रहा है कि भारतीय सेना ने जम्मू कश्मीर में लाइन आफ कंट्रोल के तीन किमी पार जाकर आतंकी शिविरों पर हमले किये थे और वीडियो के अनुसार सौ के आसपास आतंकवादियों को सफलतापूर्वक मार गिराने में सफलता प्राप्त की थी। इस महाअभियान की खबर किसी को भी नहीं लग सकी थी और भारतीय सेना ने अपना अभियान सफलता पूर्वक बिना किसी खरांेच के पूरा किया और जिसके कारण हर भारतीय का सीना गर्व से चैड़ा हो रहा था । लेकिन वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान सरकार व…
-तारकेश्वर मिश्र  जम्मू कश्मीर में भाजपा-पीडीपी सरकार के गिरने के बाद से कश्मीर घाटी का दृश्य बदला हुआ दिखाई दे रहा है। रमजान के महीने में सीजफायर के दौरान आंतकी घटनाओं में एकाएक बढ़ोत्तरी ने प्रदेश व केंद्र सरकार की जमकर किरकिरी करवाई थी, लेकिन अब कश्मीर घाटी में राज्यपाल शासन लागू होते ही प्रशासन का नजरिया बदलने लगा। यासीन मलिक और मीर वाइज उमर फारुख को गिरफ्तार और सैयद अहमद शाह जिलानी को घर में नजरबंद करने जैसी कार्रवाई के साथ ये खबर भी आ गई कि अब घाटी में ब्लैक कैट कमांडो तैनात किए जा रहे हैं जो आतंकवादियों के सफाये के साथ ही अमरनाथ यात्रा के दौरान आने वाले लाखों यात्रियों की सुरक्षा का काम भी देखेंगे।…
Page 1 of 15