Fri05242019

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home धर्मकर्म कुंभ मेले के लिए चलेंगी 800 विशेष ट्रेनें
Sunday, 16 December 2018 09:27

कुंभ मेले के लिए चलेंगी 800 विशेष ट्रेनें Featured

Rate this item
(0 votes)

नई दिल्ली: अगले वर्ष जनवरी में लगने वाले प्रयाग कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए प्रयागराज जिले के विभिन्न स्टेशनों से 800 विशेष रेलगाड़ियां चलाने का प्रस्ताव है। यह रेलगाड़ियां उत्तर मध्य रेलवे द्वारा यहां से संचालित की जाने वाली नियमित गाड़ियों के अतिरिक्त होंगी और इनपर कुंभ से जुड़े चित्रों के अलावा प्रयागराज के ऐतिहासिक स्मारकों की छवियां उकेरी जाएंगी।

 कुंभ मेला दुनिया का सबसे बड़ा समागम होता है और यहां करोड़ों लोग आते हैं। इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जानकारी हासिल हो, इसके लिए मेले की रंगीन और आकर्षक छवियां और प्रयागराज की ऐतिहासिक संरचनाएं विशेष ट्रेनों के 1400 कोच के साथ ही उत्तर मध्य रेलवे की नियमित ट्रेनों पर भी दर्शाई जाएंगी।

 रेलवे के सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि भारतीय रेल अगले वर्ष 14 जनवरी से चार मार्च के बीच प्रयागराज में आयोजित होने वाले कुंभ मेला 2019 के लिए व्यापक तैयारियां कर रहा है। मेले की अतिरिक्त भीड़ को प्रभावी रूप से संभालने और तीर्थयात्रियों तथा पर्यटकों की सुविधा एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए उत्तर मध्य रेलवे, उत्तर रेलवे और पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा तैयारी की जा रही है।

 उत्तर मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अमित मालवीय ने बताया कि तीर्थयात्रियों के लिए रेलवे की पूरक सुविधा के लिए 700 करोड़ रूपए से अधिक की लागत वाले 41 काम किए जा रहे हैं। इनमें से 29 कार्य पूरे हो चुके हैं और शेष जल्द पूरे हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि तीर्थयात्रियों के लिए छह विशेष पर्यटक ट्रेन देश के विभिन्न रेलवे जोन से प्रयागराज आएंगी।

 इलाहाबाद से नई दिल्ली तक 5000 प्रवासी भारतीयों के परिवहन के लिए 4 से 5 विशेष ट्रेन के संचालन की योजना है। ये लोग वाराणसी में आयोजित होने वाले प्रवासी भारतीय सम्मेलन में भाग लेने आयेंगे और वहां से कुंभ मेले में भाग लेने प्रयागराज आएंगे।

 मालवीय के मुताबिक, रेलगाड़ियों के माध्यम से संपूर्ण देश में कुंभ मेला का संदेश प्रसारित करने के लिये मेले की रंगीन और आकर्षक छवियां और प्रयागराज की ऐतिहासिक संरचनाओं की सुंदर तस्वीरें विशेष ट्रेन के साथ ही उत्तर मध्य रेलवे की मूल ट्रेनों पर भी दर्शाई जाएंगी। मालवीय के मुताबिक, रेल मंत्रालय ने प्रयागराज के कुम्भ मेला क्षेत्र में सेवारत 11 स्टेशनों से अनारक्षित रेलवे टिकटों की 15 दिन की अग्रिम बुकिंग की अनुमति दी है। जिन स्टेशनों से अनारक्षित टिकटों की अग्रिम बुकिंग की अनुमति होगी, वे इलाहाबाद जंक्शन, इलाहाबाद सिटी, नैनी, सूबेदारगंज, प्रयाग, प्रयाग घाट, दारागंज, फाफामऊ, झुंसी, विंध्याचल और इलाहाबाद छिवकी हैं।  

ये खास तैयारियां की जा रही

उन्होंने बताया कि इलाहाबाद जंक्शन पर करीब 10,000 तीर्थयात्रियों की क्षमता वाले चार विश्राम घर बनाए गए हैं। इन में वेंडिंग स्टॉल, वॉटर बूथ, टिकट काउंटर, एलसीडी टीवी, पीए सिस्टम, सीसीटीवी साथ ही महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग-अलग शौचालय ब्लॉक हैं। अन्य स्टेशनो पर भी ऐसे विश्राम घर बनाए जा रहे हैं। 

मालवीय के मुताबिक, मेला क्षेत्र में निगरानी और सुरक्षा उपायों के तहत प्रयागराज के सभी स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाये जा रहे हैं। यात्रियों के विश्राम घर भी इन कैमरों की जद में होंगे। पिछले कुंभ मेले की तुलना में इस बार आरपीएफ, वाणिज्यिक और जीआरपी के अतिरिक्त कर्मियों की तैनाती की जाएगी ताकि यह महान धार्मिक उत्सव बिना किसी बाधा के संपन्न हो सके।  

Read 41 times