Wed07172019

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home देश कोलकाता रोड शो हिंसा पर अमित शाह बोले- CRPF नहीं होती तो मेरा वहां से बचकर निकलना मुश्किल था
Wednesday, 15 May 2019 17:07

कोलकाता रोड शो हिंसा पर अमित शाह बोले- CRPF नहीं होती तो मेरा वहां से बचकर निकलना मुश्किल था Featured

Rate this item
(0 votes)

नई दिल्ली: कोलकता रोड शो में हुई हिंसा (Kolkata Clashes) पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने तृणमूल कांग्रेस और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर पलटवार किया है. अमित शाह  (Amit Shah) ने कहा कि हिंसा की खबर सुबह से थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. साथ ही उन्होंने कहा कि टीएमसी के लोगों ने ही झूठ फैलाने के लिए मूर्ती तोड़ी. प्रेस कॉन्फ्रेंस ने कहा, 'छह चरणों में बंगाल के सिवा कहीं हिंसा नहीं हुई. ममता जी की कह रही हैं कि बीजेपी हिंसा कर रही है. ममता जी 42 सीटों पर लड़ रही हैं, हम तो देश भर में चुनाव लड़ रहे हैं. कहीं और तो हिंसा नहीं हुई. यानि साफ है टीएमसी के लोग हिंसा कर रहे हैं. लोकतंत्र की हत्या की गई.' एनडीटीवी इन आरोपों की पुष्टि नहीं करता.

एक पत्रकार के जवाब में अमित शाह ने कहा कि कल वहां सीआरपीएफ नहीं होता तो मेरा वहां से बचकर निकलना मुश्किल था.

साथ ही शाह ने कहा, हमारे पोस्टर बैनर फाड़े गए. हमारे कार्यकर्ताओं को उकसाया गया. हमारे कार्यकर्ता चुप रहे. दो से ढाई लाख लोग रोड शो के लिए पहुंचे थे. हमला तीन बार हुआ, पत्थर, कैरोसीन ऑयल सबका प्रयोग किया. सुबह से खबर थी की कॉलेज से लड़के हिंसा कर सकते हैं. लेकिन पुलिस ने कुछ नहीं किया. टीएमसी के लोग कह रहे हैं कि बीजेपी के लोगों ने ईश्वर चंद विद्यासागर की प्रतीमा तोड़ी. पर हम तो कॉलेज के बाहर थे. अंदर तो टीएमसी के लोग थे. ये टीएमसी के लोगों ने ही झूठ फैलाने के लिए मूर्ती तोड़ी. बहुत सारे फुटेज हैं. कॉलेज का गेट भी नहीं टूटा है. 

उन्होंने कहा कि 7:30 बजे की घटना थी तब तो कॉलेज बंद हो जाता है. कमरा किसने खोला, कमरे की चाभी कहां से आई? टीएमसी की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. ये सारे साक्ष्य बताते हैं कि ईश्वर चंद विद्यासागर की प्रतीमा टीएमसी के लोगों ने तोड़ी.

भाजपा अध्यक्ष ने इसके साथ ही कहा बंगाल में एक भी जगह हिस्ट्रीशीटर की गिरफ्तारी नहीं हुई. चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर सवाल खड़ा होता है. दो दिन पहले ममता दीदी ने धमकी दी. चुनाव आयोग ने क्यों संज्ञान नहीं लिया? ममता दीदी आप मुझसे बड़ी हो पर चुनाव लड़ाने में मेरा अनुभव आप से ज्यादा है. बंगाल के लोगों ने तय कर लिया है कि टीएमसी की हार तय है. मैं कह रह हूं कि देश में बीजेपी को अकेले बहुमत मिलेगा. अभी खबर आई कि मेरे खिलाफ FIR हुई है. हमारे तो आपने 60 लोगों को मार दिया फिर भी हमारा संघर्ष नहीं रूका. ममता दीदी आपका समय खत्म हो गया. हम बंगाल में 23 सीटें जीत कर स्वीप करने जा रहे हैं.

Read 11 times