Fri10182019

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home खेल विश्व कप के नॉकआउट मुकाबलों में क्यों फेल हो जाते हैं विराट
Wednesday, 10 July 2019 17:48

विश्व कप के नॉकआउट मुकाबलों में क्यों फेल हो जाते हैं विराट

Rate this item
(0 votes)

नई दिल्ली: विश्व कप-2019 में 10 जुलाई को टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली 6 गेंदों में महज 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। विश्व कप के नॉकआउट मुकाबलों में अगर विराट कोहली के प्रदर्शन पर नजर डालें, तो वो बेहद खराब रहा है। कोहली ने विश्व कप के 6 नॉकआउट मुकाबलों में 12.16 के औसत से महज 73 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट महज 56.15 का रहा है। बड़े-बड़े विश्व रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले कोहली का अहम मुकाबलों में इस कदर फेल होना फैंस का दिल तोड़ रहा है। विराट कोहली 77 टेस्ट की 131 पारियों में 8 बार नाबाद रहते 6613 रन बना चुके हैं। इस दौरान उन्होंने 25 शतक, 20 अर्धशतक और 6 दोहरे शतक जड़े हैं। बात अगर 236 वनडे मैचों की करें, तो इसमें 38 बार नाबाद रहते हुए विराट 11286 रन बना चुके हैं। एकदिवसीय मैचों में कोहली 41 सेंचुरी और 54 फिफ्टी लगा चुके हैं। वहीं टी20 अंतर्राष्ट्रीय में कोहली 67 मुकाबलों में 20 अर्धशतक की मदद से 2263 रन बना चुके हैं।

Read 29 times