Sun07052020

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home दुनिया भारत का ब्रिटेन से अनुरोध, भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या शरण मांगे तो न करें स्वीकार
Thursday, 11 June 2020 17:52

भारत का ब्रिटेन से अनुरोध, भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या शरण मांगे तो न करें स्वीकार Featured

Rate this item
(0 votes)

नई दिल्ली:भारत ने ब्रिटेन सरकार से अनुरोध किया है कि भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या और शरण मांगे तो उसे अस्वीकार कर दे। भारत सरकार ने कहा है कि वह विजय माल्या के जल्द प्रत्यर्पण को लेकर ब्रिटिश सरकार के संपर्क में है।

 विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने गुरुवार को वर्चुअल ब्रीफिंग में कहा कि विजय माल्या के जल्द प्रत्यर्पण के लिए हम ब्रिटेन के अधिकारियों के संपर्क में हैं। हमने ब्रिटेन के पक्ष से भी अनुरोध किया है कि यदि माल्या की ओर से शरण की अवधि बढ़ाने को लेकर कोई अर्जी उनके पास आती है तो वह उस पर विचार न करें।

द गार्जियन के मुताबिक, भगोड़े कारोबारी टाइकून माल्या ने यूनाइटेड किंगडम में शरण के लिए आवेदन किया है।  भारत के प्रत्यर्पण से बचने के लिए शऱण लेने की माल्या की आखिरी कोशिश है। द गार्जियन में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, मानवाधिकारों पर यूरोपीय सम्मेलन के अनुच्छेद 3 के तहत माल्या ब्रिटेन में शरण मांगने के लिए आवेदन कर सकता है, जो "अमानवीय या अपमानजनक उपचार या दंड" को प्रतिबंधित करता है।

इससे पहले ब्रिटेन ने कहा था कि "एक और कानूनी मुद्दा" है जिसे विजय माल्या के प्रत्यर्पण की व्यवस्था किए जाने से पहले हल करने की आवश्यकता है। हालांकि इसे गोपनीय बताते हुए इस मुद्दे की जानकारी नहीं दी गई। पिछले महीने प्रत्यर्पण के खिलाफ विजय माल्या की अपील खारिज हो गई थी और यूके की सर्वोच्च अदालत ने उसे आगे अपील करने से भी रोक दिया था।

Read 18 times