Sat07112020

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home राजनीति सरकार के मिस-मैनेजमेंट और गलत नीतियों की वजह से सीमा पर संकट खड़ा हुआ: सोनिया गांधी
Tuesday, 23 June 2020 16:29

सरकार के मिस-मैनेजमेंट और गलत नीतियों की वजह से सीमा पर संकट खड़ा हुआ: सोनिया गांधी Featured

Rate this item
(0 votes)

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कोरोना महामारी, पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों और वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीन के साथ तनाव को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस वर्किंग कमिटी (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में सोनिया गांधी ने आरोप लगाया कि भाजपा की अगुवाई वाली सरकार के कुप्रबंधन और उसकी गलत नीतियों के कारण चीन  के साथ सीमा पर मौजूदा संकट है। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के कुप्रबंधन को मोदी सरकार की ‘सबसे विनाशकारी विफलताओं’ के तौर पर दर्ज किया जाएगा।

बता दें कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में मंगलवार को पार्टी के वर्किंग कमिटी की वर्चुअल बैठक हुई, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राहुल गांधी व पार्टी के अन्य नेता भी शामिल हुए।

बैठक में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि आज देश भयावह आर्थिक संकट और महामारी का सामना कर रहा है। इस बीच भारत-चीन सीमा पर हिंसक झड़प से देश संकट में है। सोनिया गांधी ने इन सभी संकटों के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि भाजपा के नेतृत्व में एनडीए सरकार का कुप्रबंधन और इसकी गलत नीतियां ही सभी संकट को पैदा कर रही हैं।

वहीं, बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि सीमा पर संकट से अगर दृढ़ता से नहीं निपटा गया, तो यह एक गंभीर स्थिति उत्पन्न कर सकता है। मनमोहन सिंह ने कहा कि कोरोना संकट से निपटने के लिए जिस साहस और प्रयास की आवश्यकता है, उससे महामारी का सामना नहीं किया जा रहा है। मैं सोनिया जी की टिप्पणी का भी समर्थन करता हूं।

Read 12 times