Fri10182019

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home राज्य यूपी में बंटने लगा बेरोज़गारी भत्ता
Sunday, 09 September 2012 14:05

यूपी में बंटने लगा बेरोज़गारी भत्ता Featured

Rate this item
(0 votes)

लखनऊ: बेरोजगारी भत्‍ते का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए खुशखबरी है। प्रदेश सरकार ने आज से बेरोजगारी भत्‍ता बांटने की शुरुआत कर दी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज लखनऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में इस योजना की शुरुआत की। इस अवसर पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव भी मौजूद थे। कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने 2014 के चुनावों से पहले ही अपना वादा पूरा कर दिखाया है। पहले चरण में 10,337 युवाओं को बेरोजगारी भत्‍ता दिया जाएगा।  राजधानी में गोमती तट पर मशहूर काल्विन तालुकेदार्स कालेज के विशाल मैदान पर 10,500 युवकों को बेरोजगारी भत्ते का पहला चेक वितरित किये जाने के लिए आयोजित समारोह का शुभारंभ करते हुए सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने सरकार के सभी मंत्रियों को निर्देश दिये कि वे पार्टी के चुनाव घोषणा पत्र को अमल में लाने के लिए प्रभावी रणनीति तैयार करें।

पुत्र एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में सपा मुखिया मुलायम ने अतीत में जाते हुए कहा कि बेरोजगारी भत्ता लागू किये जाने के साथ ही समाजवादी चिंतक डॉ. राममनोहर लोहिया का वह सपना पूरा हो गया है जो उन्होंने न सिर्फ देखा था बल्कि जिस पर अमल के लिए संघर्ष भी किया था और जेल यातना भी सही थी। मुलायम ने सभी राजनीतिक पार्टियों पर जनता के साथ वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा, ''समाजवार्दी पार्टी को छोड़कर किसी ने भी जनता से किये वादे पूरे नहीं किये और उत्तर प्रदेश के पिछड़े रह जाने की यही सबसे बडी वजह है।’’ उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने सपा को इस भरोसे के साथ पूर्ण बहुमत दिया कि इसकी कथनी और करनी में कोई अन्तर नहीं है और हम जनता के इस भरोसे को पूरा करके दिखाएंगे। सपा मुखिया ने कहा, ''अभी यह शुरुआत है.. एक एक करके सारे वादे पूरे किये जायेंगे, कन्या विद्याधन योजना से लेकर किसानों को सिंचाई का मुफ्त पानी तक सारे वादे पूरे होंगे।’’ उन्होंने यह भी कहा कि हालांकि प्रदेश की जनता ने इसके लिए हमें पांच साल का समय दिया है मगर हमारी कोशिश होगी कि इन वादों को जल्दी से जल्दी अमली जामा पहनाया जाये और अधिकारियों को इसके लिए योजनाएं बनानी शुरू कर देनी चाहिए।

इससे पूर्व समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश के पिछड़ेपन के लिए पूर्ववर्ती बसपा सरकार के काम काज को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उसने बेरोजगार युवकों के लिए कोई काम नहीं किया। अखिलेश ने कहा ''पिछली सरकारों में जो विकास होना था नहीं हुआ, जब से समाजवादी पार्टी सरकार में आयी है हम इस दिशा में प्रयत्नशील हैं, हर क्षेत्र में सकारात्मक कोशिश हुई है और हालांकि सरकार के अभी छह महीने ही हुए हैं और सकारात्मक संकेत दिखने लगे हैं।’’ उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश सभी युवकों को रोजगार उपलव्ध कराने की है और हमें भरोसा है कि विकास और औद्योगिकीकरण के जरिए इस लक्ष्य को प्राप्त कर लिया जायेगा। अखिलेश ने कहा ''हजार रुपये महीने का बेरोजगारी भत्ता छोटी सी मदद है ताकि युवक निराश न हों और पढ़ाई के क्षेत्र में आगे बढ़ें।’’ मुख्यमंत्री ने अपनी सरकार की उपलब्धियां भी गिनाईं और कहा कि बेरोजगार युवकों को भत्ता देने के लिए जरूरी होने पर बजट राशि में बढ़ोत्तरी की जायेगी।

आज बेरोजगारी भत्ता चेक वितरण कार्यक्रम में लखनऊ, उन्नाव, हरदोई, सीतापुर, लखीमपुर, रायबरेली और कानपुर के बेरोजगार युवकों को बुलाया गया था। हर जिले के कुछ युवकों को भत्ते के चेक सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदान किये जबकि बाकी युवकों को चेक वितरित करने के लिए ‘‘पंक्ति प्रभारी’’ तैनात किये गये थे। अपनी तरह के अनूठे और भव्य कार्यक्रम के लिए काल्विन तालुकेदास कालेज के विशाल मैदान पर व्यापक इंतजाम किये गये थे।

उल्लेखनीय है कि समाजवादी पार्टी ने चुनाव घोषणा पत्र में प्रदेश के बेरोजगार युवकों को एक हजार रुपये महीने का भत्ता देने की घोषणा की थी और पार्टी के सत्ता में आने के बाद बनी नीति के तहत यह भत्ता कम से कम 10वीं पास 25 से 40 वर्ष की आयु वर्ग के उन युवकों को देने का फैसला किया गया जिनके परिवार की सालाना आय 36 हजार से अधिक न हो। आज जिन युवकों को बेरोजगारी भत्ते के चेक बांटे गये उनके आवेदन मई जून और जुलाई महीने में सरकार को प्राप्त हो गये थे। प्रदेश सरकार को अब तक पांच लाख बेरोजगार युवकों के आवेदन मिल चुके हैं और उन्हें यह चेक जिला प्रशासन के जरिए उपलब्ध कराये जायेंगे। प्रदेश सरकार ने राज्य में लगभग नौ लाख युवको को बेरोजगारी भत्ते का पात्र होने के अनुमान के साथ वित्तीय वर्ष 2012-13 के बजट में 1100 करोड़ रुपये का प्रावधान कर रखा है।

Read 816 times