Wed07172019

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home राज्य एचडीएफसी बैंक और इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सेवाएँ देने के लिए मिलाया हाथ
Thursday, 04 October 2012 13:58

एचडीएफसी बैंक और इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सेवाएँ देने के लिए मिलाया हाथ

Rate this item
(0 votes)
- आईओसीएल के किसान सेवा केंद्र करेंगे बिजनेस कॉरेस्पॉन्डेंट का काम - पीलीभीत बरेली (उत्तर प्रदेश), 4 अक्टूबर 2012 : एचडीएफसी बैंक ने आज इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के साथ तालमेल का ऐलान किया, जिसके तहत इसके ग्रामीण क्षेत्रों के पेट्रोल पंप पर किसान सेवा केंद्र (केएसके) अब बैंक के बिजनेस कॉरेस्पॉन्डेंट (बीसी) का भी काम करेंगे। यह किसी बैंक और तेल वितरण कंपनी के बीच अपनी पहली तरह का तालमेल है, जिसका लक्ष्य बैंक शाखाओं के मौजूदा नेटवर्क से दूर के अर्धशहरी और ग्रामीण भारत में रहने वाले लोगों को आधुनिक बैंकिंग सेवाएँ उपलब्ध कराना है। इसकी शुरुआत पीलीभीत से की गयी है। एचडीएफसी बैंक ने चरणबद्ध ढंग से ऐसे 1000 केएसके को इसके तहत लाने की योजना बनायी है। ऐसा हर केंद्र लगभग 1,5000 ग्राहकों को सेवाएँ दे सकेगा। यह पहल एचडीएफसी बैंक के बोर्ड से स्वीकृत उस योजना का हिस्सा है, जिसके तहत एक करोड़ परिवारों (चार करोड़ व्यक्तियों) को बैंकिंग के दायरे में लाने का लक्ष्य रखा गया है। किसान सेवा केंद्र जो बैंकिंग सेवाएँ उपलब्ध करायेंगे, उनमें ऋण आवेदनों की आरंभिक प्रक्रिया, छोटी रकम बाँटना और जमा करना, माइक्रो-इन्श्योरेंस बेचना, म्यूचुअल फंड और अन्य निवेश के साधन उपलब्ध कराना शामिल है। इस तालमेल पर टिप्पणी करते हुए एचडीएफसी बैंक के हेड, एग्री बिजनेस श्री माइकल एंड्राडे ने कहा, “एचडीएफसी बैंक की 75% से ज्यादा शाखाएँ दूसरी और तीसरी श्रेणी के शहरों में हैं। हम अर्धशहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में तमाम तरह के बैंकिंग उत्पादों को उपलब्ध करा कर अपने ग्राहकों को सशक्त बनाने में गर्व महसूस करते हैं। आईओसीएल के साथ इस साझेदारी की पहल दूरदराज के उद्यमशील भारतीयों तक बैंकिंग को ले जाने की दिशा में हमारा एक और कदम है। आईओसीएल के ग्रामीण खुदरा केंद्रों के विशाल नेटवर्क और हमारे विभिन्न बैंकिंग उत्पादों को देखते हुए यह साझेदारी हमारे ग्राहकों के लिए हर तरह से फायदेमंद है।” इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के डीजीएम, रिटेल सेल्स हेड, यूपीएसओ -2 श्री अतुल भटनागर ने कहा, “किसान सेवा केंद्र (केएसके) एक खुदरा बिक्री केंद्र का मॉडल है, जिसे आईओसीएल ने ग्रामीण क्षेत्रों में अपने ग्राहकों की जरूरतें पूरी करने के लिए शुरू किया है। आज केएसके ग्रामीण बाजारों में एक प्रमुख खिलाड़ी है, जिसे ग्रामीण क्षेत्रों में दूसरी और तीसरी श्रेणी की उभरती सड़कों पर तेजी से हो रहे विकास का फायदा मिल रहा है। केएसके में एक नयी सोच है, जो डीलरों को ग्राहकों की ओर से आने वाली बड़ी माँग को पूरा करने में मददगार है। इस साझेदारी से एचडीएफसी बैंक को हमारे सुस्थापित खुदरा नेटवर्क की मदद से ग्रामीण क्षेत्रों में अपने ग्राहकों को लाभ पहुँचाने और समावेशी विकास के नये रास्ते खोलने का अवसर मिलेगा।”
Read 963 times