Sun05262019

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home राज्य यूनिसेफ ने मनाया हैण्डवाशिंग डे
Friday, 19 October 2012 05:59

यूनिसेफ ने मनाया हैण्डवाशिंग डे

Rate this item
(0 votes)
लखनऊ: युनिसेफ ने आज ग्लोबल हैण्डवाशिंग डे मनाया गया जिसमे बच्चों ने हाथों के धोने व स्वच्छता के महत्व व उपयोगिता पर बढ़ चढ़ का भाग लिया और समाज मे अधिक से अधिक लोगों मे जागरूकता फैलाने का संकल्प भी लिया। लखनऊ के साथ साथ युनिसेफ द्वारा पूरे प्रदेश मे ग्लोबल हैण्डवाशिंग डे 2012 के अवसर पर हाथों के धोने व स्वच्छता के महत्व संबधित कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। प्रदेश के यूनिसेफ कार्यालय प्रमुख अदेल खुद्र ने बताया कि ’’बच्चे अतिसंवेदनशील होते हैं। वे अनुपातहीन रूप से अतिसारीय रोगों के शिकार हो जाते हैं। महत्वपूर्ण समय में साबुन से हाथ धोने का एक आसान तरीका जैसे कि शौचालय का उपयोग करने के बाद और भोजन करने से पहले हाथ धोना, एक कम लागत और उच्च प्रभाव वाला जीवनरक्षक हस्तक्षेप हो सकता है।’’ इस वर्ष भी उत्तर प्रदेश में लाखों बच्चे, अभिभावकगण, शिक्षकगण और अन्य स्वास्थ्य कार्यकर्ताऐं साबुन से हाथ धोने के लिए और इस संदेश को अन्य परिवारों में फैलाने लिए तत्पर रहेंगे। यह सरल संदेश है - हाथ धोओ जीवन बचाओ। वाराणसी जिले में स्थित प्राथमिक विद्यालय, कचनार में 12 वर्षीय खुशबू अपने स्कूल में काफी लोकप्रिय है। इनको यह लोकप्रियता ऐसे हासिल नहीं हुई, चार साल पहले जब इन्होंने अपने हाथ साफ रखने के लिए साबुन से हाथ धोने की तरकीब सुझाई तो इनके उत्सुक दोस्तों ने इन्हें चारों तरफ से घेर लिया और आत्मविश्वासी खुशबू ने हाथ धोने के महत्वपूर्ण समय के बारे में अपने दोस्तों को बताया। सन् 2008 के बाद से दुनिया भर के लोगों ने 15 अक्टूबर को ग्लोबल हैण्डवाशिंग डे के रूप में मनाना शुरू किया। इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य बीमारियों से बचाव के लिए साबुन से हाथ धोने की महत्व पर जागरूकता फैलाना है। उत्तर प्रदेश में भी स्कूलों, शिक्षकों, बच्चों और परिवारों ने इस महत्वपूर्ण अभ्यास के लिए हर वर्ष इस दिवस को मनाने की प्रतिबद्धता जाहिर की और इसके परिणाम उत्साहजनक रहे हैं।
Read 2355 times