Sun07212019

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home कारोबार
कारोबार - दिव्य इंडिया न्यूज़
लखनऊ 21 जुलाई 2019 । निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक का एकीकृत शुद्ध मुनाफा चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 18.04 प्रतिशत बढ़कर 5,676.06 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। बैंक ने शनिवार को निदेशक मंडल की बैठक के बाद बीएसई को बिना ऑडिट के तिमाही परिणाम के बारे में जानकारी दी। उसने कहा कि पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध मुनाफा 4,808.35 करोड़ रुपये रहा था। बैंक ने बताया कि इस दौरान उसकी एकीकृत कुल आय पिछले वित्त वर्ष के 28,000.06 करोड़ रुपये की तुलना में 22.59 प्रतिशत बढ़कर 34,324.45 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी। बैंक ने बताया कि समीक्षाधीन अवधि के दौरान उसका एकल मुनाफा 21 प्रतिशत बढ़कर 5,568.16 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।…
लखनऊ: देश की सर्वाधिक विविधतापूर्ण गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी  के तौर पर प्रतिष्ठित, एल एंड टी फाइनेंस होल्डिंग्स (एल॰टी॰एफ॰एच) ने 30 जून, 2019 को समाप्त हुई तिमाही के लिए अपने वित्तीय परिणामों को घोषित किया। हालांकि, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी सेक्टर के लिए वित्त-वर्ष 20 की पहली तिमाही बेहद कठिन रही, इसके बावजूद एल॰टी॰एफ॰एच अपने सुदृढ़ नेतृत्व, बेहद प्रभावशाली बैलेंस शीट तथा व्यावसायिक क्षेत्र में अपनी मजबूती का लाभ उठाते हुए सभी प्रमुख मापदंडों पर बेहतर परिणाम देने में सक्षम रहा। 2% की वृद्धि के साथ समेकित वित्त-वर्ष 20 की पहली तिमाही में रुपए 549 करोड़ तक पहुंच गया जो वित्त-वर्ष 19 की पहली तिमाही में रुपए 538 करोड़ था , गत वर्ष के 46% की तुलना में रिटेलाइजेशन बढ़कर 52% हो…
नई दिल्ली : जिस दिन का भारतीय क्रिकेट प्रेमियों को काफी लंबे समय से इंतजार था। आखिरकार वो दिन आ ही गया। भारतीय 'क्रिकेट के भगवान' कहे जाने वाले दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को आखिरकार आईसीसी ने बड़ा सम्मान देते हुए हॉल ऑफ फेम में शामिल कर लिया है। सचिन को दक्षिण अफ्रीका के एलन डोनाल्ड और ऑस्ट्रेलिया के कैथरीन फिट्जपैट्रिक के साथ लंदन में एक समारोह के दौरान आईसीसी हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया। राहुल द्रविड़ आईसीसी द्वारा सम्मानित किए जाने वाले अंतिम भारतीय थे। जब द्रविड़ को हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया था, तब सवाल उठाए गए थे कि हॉल ऑफ फेम की लिस्ट से 'भारत के सबसे बड़े क्रिकेटर' का नाम अभी तक…
गृह करदाता पूरे भारत में एचडीएफसी बैंक की किसी भी शाखा में कर का भुगतान कर सकते हैं लखनऊ: एचडीएफसी बैंक ने लखनऊ नगर निगम के गृहकर दाताओं के लिए सुविधा स्थापित करने हेतु लखनऊ नगर निगम से साझेदारी की है।करदाता अब नकद या एचडीएफसी बैंक की चेक से पूरे भारत में एचडीएफसी की किसी भी शाखा में तुरंत और सुविधाजनक ढंग से काउंटर पर अपने गृहकर का भुगतान करने में सक्षम होंगे।अत: एचडीएफसी बैंक के ग्राहक तथा ऐसे व्यक्ति जो एचडीएफसी बैंक के ग्राहक नहीं हैं (नकद) ठोस बैंक नेटवर्क के माध्यम से अपने गृहकर का भुगतान कर सकते हैं।बैंक जल्द ही ऑनलाइन पेमेंट गेटवे भी स्थापित करेगा। लखनऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में माननीय श्रीमती संयुक्ता भाटिया, मेयर,…
लखनऊ । समय के साथ फैशन बदलता है और बदलते हैं उसके स्वरुप| फैशन की इसी दुनिया में अब एक नया स्वरुप अपना आकार ले रहा है| अभी तक हम सिलाई को फैशन की फील्ड का एक अभिन्न और महत्वपूर्ण अंग मानते थे लेकिन इस नए स्वरुप में सिलाई का कोई स्थान नहीं है| बात थोड़ी हैरानी वाली भले ही हो लेकिन है बिलकुल सही| फैशन डिजाइनिंग के इस नए स्वरुप में रबर बैंड और बटन या उस जैसी किसी वस्तु से हज़ारों तरह के परिधान तैयार किये सकते हैं | इस अद्भुत कला पूरी दुनिया में पहुँचाने वाले बटन मसाला के नाम से मशहूर सुप्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय फैशन डिज़ाइनर श्री अनुज शर्मा को आज लखनऊ में लोगों से रूबरू करवाया…
नई दिल्ली:: मोदी सरकार ने व्हीकल रजिस्ट्रेशन और ड्राइविंग लाइसेंस डाटा को बेचकर कमाई शुरू कर दी है. इस साल की शुरुआत में व्हीकल डाटा बेचने की पॉलिसी को कैबिनेट की मंजूरी मिली थी. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने राज्यसभा में दिए गए अपने अपनी लिखित जवाब में बताया कि सरकार ने डाटा बेचकर 65 करोड़ रुपये की कमाई की है. सरकार की तरफ से अब तक 87 प्राइवेट कंपनियों और 32 सरकारी कंपनियों को वाहन डाटा बेचा गया है. बल्क डाटा शेयरिंग पॉलिसी के तहत प्राइवेट कंपनियों और शैक्षणिक संस्थानों को डाटा एक्सेस की इजाजत दी जाती है. इसमें शैक्षणिक संस्थान से एक साल के लिए 3 करोड़ रुपये, सरकारी संस्थानों से 5 करोड़ रुपये लिए…
नई दिल्ली: देश के ऑटो सेक्टर में बीते काफी समय से गिरावट का दौर जारी है। बीते 8 माह से लगातार देश के डोमेस्टिक पैसेंजर कार की बिक्री में कमी आ रही है। आंकड़ों के अनुसार, जून 2018 में 2,73,748 डोमेस्टिक पैसेंज कार की बिक्री हुई। वहीं जून 2019 में यह आंकड़ा घटकर 2,25,732 तक पहुंच गया। इस तरह बीते साल ऑटो सेक्टर में 17.54 प्रतिशत की भारी-भरकतम कटौती हुई। उल्लेखनीय है कि बीते 12 महीनों में से 11 महीनों में ऑटो सेक्टर ने मंदी का दौर देखा है, सिर्फ अक्टूबर, 2018 में ही इस सेक्टर में थोड़ी सी ग्रोथ देखी गई। सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्यूफैक्चरर्स (SIAM) के आंकड़ों के अनुसार, बीते माह जून में कारों की बिक्री 24.97…
बिजनौर:  एचडीएफसी बैंक ने सड़क सुरक्षा अभियान, ‘ट्रैफिक की पाठशाला’ के लाॅन्च के लिए बिजनौर पुलिस के साथ साझेदारी की है। इस अभियान का उद्देश्य सड़क सुरक्षा पर बरती जाने वाली सावधानियों की जागरुकता बढ़ाकर बिजनौर की सड़कों को सुरक्षित बनाना है। शहर में आयोजित एक समारोह में इस अभियान का उद्घाटन, सुजीत कुमार, जिला अधिकारी,  संजीव त्यागी, पुलिस अधीक्षक, साथ में संजय चतुर्वेदी,  क्लस्टर हेड एचडीएफसी बैंक के साथ शहर में ‘ट्रैफिक की पाठशाला’ के स्वैच्छिक कर्मियों की जागरुकता रैली को रवाना करके किया। इस जागरुकता रैली में स्वैच्छिक कर्मियों के समूह एवं एचडीएफसी बैंक के कर्मचारी शामिल होंगे, जो शहर के सभी महत्वपूर्ण एवं व्यस्त चौराहों पर जाएंगे। ये स्वैच्छिक कर्मी ब्रांडेड प्लेकार्ड लेकर चलेंगे, जिन पर लोगों…
नई दिल्ली: व‍ित्‍त मंत्री न‍िर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार 2.0 का पहला बजट पेश किया है। आइये जानते हैं कि बजट में कौन सी चीजें हुईं सस्‍ती और कौन सी चीजें हुईं महंगी। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण के इस बजट के बाद पेट्रोल-डीजल, सोना, काजू महंगे हो जाएंगे। पेट्रोल और डीज़ल पर 1 रुपये प्रति लीटर की कस्टम ड्यूटी बढ़ाई गई है। सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 फीसदी से बढ़ाकर 12.5 फीसदी की गई है। सोने पर 2.5 फीसदी आयात शुल्‍क बढ़ा दिया गया है जिससे दाम में इजाफा होगा।  ये हुआ महंगा पेट्रोल-डीजल, सोना, काजू महंगे होंगे। आयात शुल्‍क में इजाफा होने से कई चीजों के दाम भी बढ़ेंगे। आयातित किताबों पर पांच प्रतिशत का शुल्‍क लगेगा। ऑटो पार्ट्स,…
नई दिल्ली: बजट 2019 में इनकम टैक्स स्लैब में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है. फरवरी में अंतरिम बजट में ऐलान किया गया था कि पांच लाख से कम आए वालों को इनकम टैक्स से छूट दी गई थी. वहीं दूसरी ओर इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद को लेकर लिये गये कर्ज पर ब्याज भुगतान में 1.5 लाख रुपये की आयकर छूट दी जाएगी. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करते हुए ऐलान किया कि दो करोड़ से पांच करोड़ रुपये और पांच करोड़ रुपये से अधिक की कर योग्य आय वाले करदाताओं पर अधिभार बढ़ाया गया. इस वृद्धि से उनकी प्रभावी कर दर क्रमश: तीन प्रतिशत और सात प्रतिशत बढ़ जायेगी. इसके अलावा बैंकों से एक साल में…
Page 1 of 77