Tue01192021

ताज़ा खबरें :
Back You are here: Home कला और साहित्य
कला और साहित्य - दिव्य इंडिया न्यूज़
नयी दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की कक्षा 10वीं और 12 वीं की बोर्ड परीक्षाएं चार मई से 10 जून के बीच आयोजित की जाएगीं जबकि प्रैक्टिकल मार्च में होंगे। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने बोर्ड परीक्षाएं देने वाले देशभर के लाखों छात्रों की अनिश्चितताओं को विराम लगाते हुए गुरुवार को परीक्षाओं की तिथियां घोषित की। इस बार बोर्ड परीक्षाएं चार मई से प्रारम्भ होकर 10 जून तक चलेगी जबकि प्रैक्टिकल एक मार्च से शुरू होगें। सीबीएसई जल्द ही परीक्षा की समय सारिणी भी जारी करेगा। बोर्ड परीक्षाओं के नतीजों की घोषणा 15 जुलाई से पहले की जाएगी। केंद्रीय मंत्री ने परीक्षाओं की तिथियां घोषित करते हुए कहा, "जैसा कि आप सभी जानते हैं, कोविड-19 महामारी के…
नयी दिल्ली:केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ़ रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कहा है कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति भारत के हर वर्ग, हर क्षेत्र, हर छात्र तथा हर कोने तक समान और समावेशी रूप से शिक्षा पहुँचाने के उद्देश्य से अस्तित्व में आई है। डॉ़ निशंक ने सीबीएसई सहोदय स्कूल परिसरों के 26वें राष्ट्रीय वार्षिक सम्मलेन को संबोधित करते हुए आज कहा कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने शिक्षा में उत्कृष्टता के लिए अपने स्कूलों के बीच विचारों के तालमेल की सुविधा के लिए 1986 में सहोदय की शुरुआत की। इसकी शुरुआत 'देखभाल और साझा करने' की भावना से प्रेरित किया गया और इसका उद्देश्य सीबीएसई परिवार के स्कूलों के बीच घनिष्ठ नेटवर्किंग और सहयोग करना है। उन्होंने कहा कि देश भर…
लखनऊ। उत्कर्ष साहित्यिकी के अंतर्गत हिंदी दिवस पर आयोजित वेबीनार में साहित्यकारों ने माना कि ,आंचलिक उपन्यासों के साहित्यकारों ने नारी चरित्र की दशा और दिशा को सही माइनों में परिभाषित कर पाठकों के समक्ष रखने में पूर्ण रूप से सफलता पायी। आंचलिक उपन्यासों में आधी आबादी की संवेदनशीलता, सूक्ष्म चेतनाओं कोे उपन्यासकारों ने ख़ूब पहचाना और उसके अस्तित्व बोध के प्रति विशेष जागरूकता दिखाई। सामाजिक और राजनैतिक विसंगतियों एवं प्रवृत्तियों के चित्रण में सिद्धहस्त गोपाल उपाध्याय के उपन्यासों के पात्र काल्पनिकता से परे और उनका चित्रण सजीव हैं जिनको पढ़ने से ऐसा प्रतीत होता है कि ये हमारे आसपास के ही चित परिचित लोग हैं। उनकी भाषा सहज और प्रवाहमान है ।प्रगतिशील लेखक संघ लखनऊ के अध्यक्ष रहे गोपाल…
अध्यात्म व राजनीति सहित कई क्षेत्रों की विभूतियों का समागम शंकराचार्य परिषद अध्यक्ष स्वामी आनन्द स्वरूप व सांसद अशोक बाजपेयी रहे मौजूद डॉ. राजाराम मिश्र व राम महेश मिश्र की कृति है यह ब्राह्मण ग्रन्थ   लखनऊ: आज सायंकाल इन्दिरानगर के सेक्टर-नौ स्थित सेन्ट्रल एकेडेमी स्कूल में विशेष ब्राह्मण ग्रन्थ का विमोचन किया गया। फर्रूखाबाद मूल के वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. राजाराम मिश्र ‘कमलेश’ तथा लखनऊ निवासी वरिष्ठ आध्यात्मिक लोकसेवी एवं भाग्योदय फ़ाउण्डेशन के अध्यक्ष श्री राम महेश मिश्र द्वारा लिखित पुस्तक ‘ब्राह्मणों का इतिहास और उनका भविष्य’ के विमोचन समारोह में राजधानी लखनऊ की अनेक नामचीन हस्तियाँ उपस्थित रहीं। कार्यक्रम का आयोजन वरिष्ठ लोकसेवी श्री प्रमिल द्विवेदी, हास्ययोगी श्री शिवाराम मिश्र और श्री मनोज मिश्र द्वारा किया गया था। सभागार…
नई दिल्ली: ‘नई शिक्षा नीति 2020’ को नरेंद्र मोदी सरकार की हरी झंडी मिल गई है। इस शिक्षा नीति के बारे में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और रमेश पोखरियाल ने जानकारी दी है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को नई शिक्षा नीति को मंजूरी दे दी है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक में 21वीं सदी की नई शिक्षा नीति को मंजूरी दी गई। यह बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि 34 सालों से शिक्षा नीति में कोई परिवर्तन नहीं हुआ था। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि देशवासी इसका स्वागत करेंगे। इस क्षिक्षा नीति के तहत आज की जरूरतों को देखते हुए कई सारे अहम बदलाव सरकार…
नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (cbse)ने 10वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है। इस संबंध में मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ (nishank) ने ट्वीट कर जानकारी दी। इस साल 10वीं के रिजल्ट में छात्राओं ने बाजी मारी है। वहीं कुल मिलाकर 91.46 फीसदी छात्र-छत्राएं पास हुए हैं। पिछले साल 91.10 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए थे। छात्र अपना रिजल्ट बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट www.cbse.nic.in. पर जाकर भी देख सकते हैं। इस साल सीबीएसई की 10वीं की बोर्ड परीक्षा में 18 लाख, 73 हजार, 15 छात्र बैठे थे, जिनमें से 17 लाख, 13 हजार, 121 छात्र पास हुए हैं। परीक्षा करवाने के लिए बोर्ड ने 5377 केंद्र बनाए थे। इस साल सबसे ज्यादा छात्र त्रिवेंद्रम (trivandram) में पास हुए…
नई दिल्ली: मानव संसाधन विकास मंत्री (एमएचआरडी) रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कहा है कि जो छात्र अपने घर वापस जा चुके हैं, उनकी परीक्षा उसी जिले में ली जाएगी। उन्होंने बुधवार को कहा कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने फैसला किया है कि जो छात्र अपने राज्य/ जिला में वापस आ चुके हैं, वे अपने स्कूल को सूचित कर सकते हैं। जिसके बाद छात्रों को उसी जिले में परीक्षा में शामिल होने की अनुमति होगी जहां वे वर्तमान में हैं। निशंक ने कहा कि जून के पहले सप्ताह में छात्रों को सूचित किया जाएगा कि वे किस स्कूल में परीक्षा दे पाएंगे। 18 मई को सीबीएसई बोर्ड की 10वीं और 12वी की बची हुई परीक्षाओं के लिए नई डेटशीट…
नई दिल्ली: पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित वरिष्ठ हिंदी साहित्यकार गिरिराज किशोर का रविवार सुबह कानपुर में उनके आवास पर हृदय गति रुकने से निधन हो गया. वह 83 वर्ष के थे. उनके निधन से साहित्य के क्षेत्र में शोक की लहर छा गई. बता दें, मूलत: मुजफ्फरनगर निवासी गिरिराज किशोर कानपुर में बस गए थे और यहां के सूटरगंज में रहते थे. गिरिराज किशोर के परिवारिक सूत्रों ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने अपना देह दान किया है इसलिए सोमवार को सुबह 10:00 बजे उनका अंतिम संस्कार होगा. उनके परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटियां और एक बेटा है. तीन महीने पहले गिरने के कारण गिरिराज किशोर के कूल्हे में फ्रैक्चर हो गया था जिसके बाद से वह लगातार…
नई दिल्ली: मशहूर शायर राहत इंदौरी ने तंज कसते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा है कि उन्हें किसी शिक्षित व्यक्ति से देश का संविधान पढ़वाकर समझने की कोशिश करनी चाहिये कि इसमें क्या लिखा है और क्या नहीं. इंदौरी ने यह बात संशोधित नागरिकता कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) के खिलाफ पिछले कई दिनों से शहर के बड़वाली चौकी इलाके में जारी विरोध प्रदर्शन के मंच से बृहस्पतिवार रात कही. इस मंच से 70 वर्षीय शायर के संबोधन के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. इंदौरी ने कहा, "मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दरख्वास्त करना चाहूंगा कि अगर वह संविधान पढ़ नहीं पाये हैं, तो किसी पढ़े-लिखे आदमी को बुला लें…
नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने प्रायोगिक परीक्षा का शेड्यूल जारी कर दिया है। इस बार कक्षा 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में भाग लेने वाले छात्र डेट शीट जानने के लिए बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर जाकर अधिक जानकारी हासिल कर सकते हैं। सीबीएसई बोर्ड की अधिसूचना के अनुसार, कक्षा 10 और कक्षा 12 के छात्रों के लिए प्रायोगिक परीक्षा 1 जनवरी 2020 से 7 फरवरी 2020 के लिए औपचारिक रूप से सीबीएसई से संबद्ध स्कूलों द्वारा आयोजित की जाएगी। इसकी जानकारी बोर्ड की ओर से सभी सीबीएसई स्कूलों को दे दी गई है। बताया गया है कि बोर्ड साफ-सुथरी प्रायोगिकि परीक्षा कराने के लिए केंद्रों पर आर्ब्जवर नियुक्त करेगा। इसके साथ एक्सटर्नल भी मौजूद रहेंगे।…
Page 1 of 9